Mai apne ghar ke samet nitye sewa karunga lyrics

मे अपने घराने के समेत
नित्य सेवा करूँगा
क्या तुम भी करोगे – 2

1. { अगर यहोवा की सेवा करना
तुम्हे बुरी लगे } – 2
{ आज ही चुन लो किस की सेवा
तुम नित्य करोगे } -2

2. { दासत्व के घर से मुझे
परमेश्वर ने छुड़ाया } -2
{ बड़े बड़े अस्चर्य काम करने वाला
प्रभु की सेवा करोगे } – 2

3. { उसने मुझमे कितने-कितने
भलाई को किया } -2
{ आज्ञा मानकर क्या उसके लिए
गवाह बन जाओगे } -2